अगर औरत की शक्ल में कार हो




सत्येन्द्र प्रताप
संयुक्त राज्य अमेरिका के नेवादा में सेमा नाम से कार की प्रदर्शनी का आयोजन किया जाता है। यह दुनिया की सबसे बड़ी प्रदर्शनी मानी जाती है। हालांकि मनुष्य के हर रूप को बाजार ने भली भांति पहचाना है, लेकिन अगर कार के रुप में किसी महिला को देखा जाए तो तस्बीर कुछ इसी स्टेच्यू की तरह उभरेगी। शायद इसी सोच के साथ प्रदर्शनी के आयोजकों ने कार के पार्टस से महिला की स्टेच्यू बना डाली। आप भी औरत के विभिन्न अंगों की तुलना कार-पार्टस् से करके लुफ्त उठा सकते हैं???

Comments

  1. यह मुआ बाजार किन किन अनुभूतियों और बिंबों से गुजारेगा...लेकिन हम तो शायद नारी शरीर को कभी भी कार के पुर्जों के रूप में नहीं देख पाएंगे।

    ReplyDelete
  2. सही समाचार लाये हैं.

    ReplyDelete
  3. ई लोग पगला गए हैं।

    ReplyDelete
  4. सच मे पागलपन की सब हदें पार हो गई.

    ReplyDelete
  5. धत तेरे की! माना घिन्ना गया ससुरे बजारुओं की सोच पर.

    ReplyDelete
  6. नारी और कार , भाई पागलपन नही तो और क्या है ? सब हदें पार हो गई.

    ReplyDelete

Post a comment

सुस्वागतम!!

Popular posts from this blog

गढ़ तो चित्तौडग़ढ़...

Azamgarh : History, Culture and People

...ये भी कोई तरीका है!

Most Read Posts

Bhairo Baba :Azamgarh ke

Maihar Yatra

Azamgarh : History, Culture and People

सीन बाई सीन देखिये फिल्म राब्स ..बिना पर्दे का

रामेश्वरम में

ये क्या क्रिकेट-क्रिकेट लगा रखा है?

गन्ने के खेत में रजाई लेकर जाती पारो

गढ़ तो चित्तौडग़ढ़...

चित्रकूट की ओर

चित्रकूट में शेष दिन